यूरिक एसिड या गाउट क्या है – What is uric acid & gout

यूरिक एसिड या गाउट क्या है (What is uric acid & uric acid meaning) 

यूरिक एसिड या गाउट (Gout) ऐसी बीमारी है जिसमे पैरो की हिड्डियो में सूजन, हाथ की हड्डियों में सूजन जैसी परेसानी हो सकती है। ये परेसानी अक्सर महिलाओं से ज्यादा पुरुषों में देखी जाती है। यूरिक एसिड अधिक मात्रा में प्रोटीन युक्त भोजन खाने से होता है।  30 कि उम्र के बाद शरीर की काम करने की छमता कम हो जाती है जिसके वजह से अधिक प्रोटीन हमारे शरीर के लिए नुकसानदेह साबित होता है। हमारे किडनी की काम करने की छमता कम होने के वजह से वह प्रोटीन को शरीर मे पचा नही पाती जिसकी वजह से हमारे शरीर मे प्रोटीन की मात्रा बढ़ जाती है और हमे गाउट की समस्या हो जाती है।

शरीर मे यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाने की स्थिति को hyperuricemia कहते है। जब शरीर मे प्यूरीन न्यूक्लिओटाइडो टूट जाती है तब भी यूरिक एसिड बनता है। यूरिक एसिड के क्रिस्टन जोड़ो और उनके आसपास के ऊतकों (tissue) में जमा होकर एक गाउट या गांठ का रूप ले लेते है इस गांठ को चिकित्सिक (medical) भाषा में टोफी (Tophi) कहा जाता है।

NOTE
Uric Acid को Gout, hyperuricemia,Tophi के नाम से भी जाना जाता है

यूरिक एसिड के कारण (Causes of uric acid)

शरीर में प्यूरिन के टूटने के कारण यूरिक एसिड बनता है जो किड्नी तक खून में पहुच के टॉयलेट के जरिये शरीर से बाहर निकल जाता है। जब किसी वजह से ये बाहर नही निकल पाता तब ये शरीर के अंदर इकट्ठा होने लगता है और यूरिक एसिड का स्तर अधिक हो जाता है और हमे गाउट जैसी समस्या हो जाती है।

इसके अलावा यूरिक एसिड बढ़ने के कारण है

  • शराब
  • मोटापा (obesity)
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • शरीर मे आयरन ज्यादा होना
  • गुर्दो (kidney) की खराबी
  • गलत आहार
  • 30 की उम्र के बाद अधिक प्रोटीन लेना
  • अनुवांशिकता (Geneticism)

यूरिक एसिड के लक्षण (Symptoms of uric acid)

  • पैरों-जोड़ों में दर्द
  • ज्यादा देर बैठने पर या उठने में पैरों, एड़ियो में दर्द
  • शुगर लेवल बढ़ना
  • गाठों में सूजन
  • चलने में समस्या
  • पैर के अंगूठे में खुजली
  • सोते समय पैर में जकड़न
  • पैरों के अंगूठे में सूजन होना

यूरिक एसिड में क्या नही खाना चाइए (What should not be eat in uric acid)

  • रात में सोते समय दूध नही पीना चाइए
  • बड़ी मात्रा में शराब लेने से बचना चाइए
  • फ़ास्ट फ़ूड, कोल्ड ड्रिंक्स जैसी चीज़ों का सेवन नही करना चाइए
  • रात में सोते वक्त दाल नही खाना चाइए फिर भी अगर आपका मन हो तो छिलके वाली दाल खाएं।
  • चावल, अचार, दही, ड्राई फ्रूट्स, दाल, पालक, पैक्ड फ़ूड, अंडा, पनीर, मांस, मछली, शराब और धूम्रपान से दूर रहना चाइए ये सभी चीज़े यूरिक एसिड की समस्या को बढ़ाती है।
  • और सबसे बड़ी बात खाना खाते वक़्त पानी न पिएं। खाना खाने से एक घण्टे पहले या बाद में ही पानी पीना चाइए।

यूरिक एसिड बढ़ने के मुख्य कारण (The main reason for the increase in uric acid)

यूरिक एसिड बढ़ने का मुख्य कारण खान पान है। अगर हम अपने खाने में प्रोटीन अधिक मात्रा में ले रहे है तो यूरिक एसिड बढ़ना तय है। प्रोटीन हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है पर इनकी अधिक मात्रा हमे नुकसान भी पहुचा सकती है। प्रोटीन इंसानों और अन्य जीव जंतुओं के लिए बहुत जरूरी आहार है। इससे शरीर की नयी कोशिकाएं (cells) और नये ऊतक (tissue) बनते है। पुरानी कोशिकाओं (cells) और ऊतको (tissue) की टूटफूट की मरम्मत के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी है। प्रोटीन की कमी के शरीर कमजोर हो जाता है और कई रोगों की होने की संभावना बढ़ जाती है।

प्रोटीन शरीर को ऊर्जा (energy) भी देता है। जन्मजात शिशु, बच्चे, जवान और गर्भवती औरतों के लिए अतिरिक्त प्रोटीन की मांग ज्यादा होती है, लेकिन 30 से 35 उम्र के बाद कम शारीरिक श्रम(काम) करने वाले व्यक्तियों के लिए अधिक मात्रा में प्रोटीन वाला खाना लेना उनके लिए यूरिक एसिड की समस्या का कारण बनता है। यूरिक एसिड की समस्या से बचने के लिए कम मात्रा में प्रोटीन ले।

अगर आप डायबिटीज की दवाओं को ले रहे है तो भी यूरिक एसिड बढ़ने का खतरा रहता है। इसके अलावा ब्लड प्रेशर की दवाएं, और कैंसर रोधी दवाएं भी यूरिक एसिड जैसे समस्या को बढ़ती है।


यूरिक एसिड कम करने के 20 घरेलू उपाय (20 Home remedies for reducing uric acid)

1.छोटी इलायची- जैसा हम सभी जानते है छोटी इलायची कितनी लाभकारी होती है। इसको पानी के साथ मिलाकर खाएँ। ऐसा करने से यूरिक एसिड की मात्रा कम होने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने में भी सहायक होती है।

2.बेकिंग सोडा- 1 गिलास पानी मे आधा चम्मच बेकिंग सोडा मिलाकर पीने से यूरिक एसिड कम होता है। यूरिक एसिड होने पर शरीर मे क्रिस्टल जैसा बन जाता है और शरीर मे दूसरे अंगों की हड्डियों के बीच जमा होने लगता है। बेकिंग सोडा क्रिस्टल को तोड़ देता है और क्रिस्टल शरीर मे घुल के यूरिन के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाता है। लेकिन सोडियम ज्यादा होने के वजह से बेकिंग सोडा लेते समय सतर्क रहना चाइए।

3.प्याज- प्याज़ शरीर मे प्रोटीन की मात्रा, मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है। जब शरीर मे इन दोनों में मात्रा बढ़ती है तो यूरिक एसिड की मात्रा कम हो जाती है।

4.विटामिन सी- विटामिन सी यूरिक एसिड कम करने का एक बेहतरीन सोर्स है। शरीर मे यूरिक एसिड की मात्रा को कम करने के लिए रोज अपनी डाइट में विटामिन सी ले। ये 1 से 2 महीने में यूरिक एसिड काफी कम कर देगा। नींबू (lemon), संतरा, आंवला विटामिन सी से भरपूर है।

5.अखरोट- दो-तीन अखरोट रोज़ाना खाली पेट खाने से बड़ा हुआ यूरिक एसिड कुछ समय तक कम होने लगता है।

6.ज्यादा पानी पिए- जैसा कि आप सब जानते है पानी पीने से शरीर से लगभग 50% बीमारी ख़त्म हो जाती है। शरीर मे पानी का उचित स्तर यूरिक एसिड को बाहर निकलने के लिए जरूरी है। पानी की पर्याप्त मात्रा से शरीर में मौजूद यूरिक एसिड यूरिन के रास्ते से बाहर निकल जाता है। इसलिए अधिक मात्रा में पानी पिये।

7.सेब का सिरका (Apple cider vinegar)- एक गिलास पानी मे 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर दिन में दो से तीन बार पीने से यूरिक एसिड कम होता है।

8.अजवाइन- रोजाना अजवाइन खाने से भी यूरिक एसिड में लाभ मिलता है। इसे पानी के साथ या ऐसे भी खा सकते है।

9.कच्चा पपीता- गाउट जैसी समस्या में कच्चा पपीता एक बड़ा ही लाभकारी उपाय है। एक कच्चा पपीता ले और उसे काटकर बीजों को निकाल ले, पपीते को 2 लीटर पानी मे 5 मिनट उबालकर उस पानी को ठंडा करके छान लें फिर दिन में 3 बार पिये।

10.अलसी के बीज- एक चम्मच अलसी के बीज खाना खाने के आधे से एक घंटे बाद चबा कर खाने से यूरिक एसिड में आराम मिलता है।

11.अश्वगंधा- एक चम्मच अश्वगंधा पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाकर एक गिलास हल्के गर्म दूध के साथ पिये। गर्मियों में अश्वगंधा कम मात्रा में ले।

12.आंवले का रस एलोवेरा जूस में मिलाकर पीने से भी यूरिक एसिड में आराम मिलता है।

13.अल्फा-अल्फा- ये कई प्रकार के विटामिन और मिनिरल से पूर्ण है, यह यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में मदद करता हैं। इसके अलावा इसमें एक पॉवरफुल अल्कलीजिंग गुण भी है, जो पीएच स्तर को बढ़ाकर यूरिक एसिड क्रिस्टल को शरीर से दूर करता है। इसका सेवन बीज, गोलियों, या पत्तो के रूप में किया जा सकता है।

14.नारियल- नारियल पानी भी यूरिक एसिड को कम करता है।

15.बथुआ- बथुए के पत्तो का जूस निकाल कर सुबह खाली पेट पिये। इसे लेने के 2 घंटे बाद ही कुछ खाये या पिये।

16.चुकंदर- चुकंदर कई बीमारियों से लड़ता है और शरीर मे खून की मात्रा को बढ़ाता है। चुकंदर का जूस रोजाना पीने से यूरिक एसिड कम होता है।

17.गाजर- गाजर का जूस भी यूरिक एसिड में लाभकारी होता है। ये यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है और पीएच का स्तर बढ़ता है।

18.बढ़ा हुआ वजन कम करे- अधिक वजन भी यूरिक एसिड जैसी समस्या को बढ़ाती है। अगर आपके शरीर में मोटापे के कारण चर्बी अधिक है तो प्यूरीन टूटने की संभावना भी बढ़ जाती है जिससे यूरिक एसिड होने का खतरा भी बढ़ जाता है। अगर आपको यूरिक एसिड को कंट्रोल में रखना है तो आपको अपना वजन कम करना चाइए।

मोटापा क्या है मोटापा से कैसे बचे ?

19.हरा धनिया- हरा धनिया एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता हैं। इसे खाने और इसका जूस पीने से गठिया या गाउट जैसी अन्य समस्याओं से निजात मिलता है।

20.हाई फाइबर फ़ूड- फाइबर से भरपूर चीज़ों का सेवन करने से भी बढ़ा हुआ यूरिक एसिड कम होता है। यह यूरिक एसिड को सोखने में मददगार है।

20 फूड्स जो यूरिक एसिड को कम करते है (20 Foods that reduces uric acid)
 

1.केला (banana) यूरिक एसिड या गाउट के दर्द को कम करने में मदद करता है।

2.नींबू (lemon) विटामिन सी से भरपूर यूरिक एसिड को कम करता है।

3.cold water fish जैसे टूना (tuna)

4.सेब

5.चेररीज़ (cherries) ताजी काली चेरी और चेरी का जूस यूरिक एसिड से होने वाले गठिया या किडनी स्टोन की समस्या में सबसे लोकप्रिय उपाय है।

6.बेरीज (berries)

7.ताजी सब्जियों का जूस (fresh vegetables juice)

8.लाइम (lime)

9.विटामिन सी से भरपूर फूड्स खाये (vitamin c enriched foods)

10.खाने में ओलिव आयल इस्तेमाल करे।

11.फाइबर से भरपूर फूड्स खाये।

12.ग्रीन टी रोजाना पीने से यूरिक एसिड कम होता है।

13.oats

14.celery seeds

15.broccoli

16.गाजर (carrots)

17.Omega 3 ( fish like salmon)

18.संतरा

19.हरा धनिया

20.चुकंदर

 

ये भी पढ़े 

मोटापा क्या है मोटापा से कैसे बचे ?
तनाव
 क्या है तनाव से कैसे बचे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *